Aaj Ki Tithi – आज की तिथि क्या है 2024

हिन्दू धर्म जो एक भारतीय धर्म है. इस धर्म के लोग कोई भी शुभ कार्य करने से पहले हिन्दू पंचांग के अनुसार तिथि और दिन वार देखकर ही काम का मुहूर्त करना श्रेष्ठ समझते है. इसलिए यहाँ आपको आज की तिथि (Aaj Ki Tithi) के बारे में पूरी डिटेल से जानकारी दी जाएगी, इस वेबसाइट में आप आज, कल और इस महीने में आने वाली सभी तिथियों की जानकारी देख सकते है.

आज की तिथि

हिन्दू पंचांग के अनुसार आज की तिथि (Today Tithi) निचे टेबल में है. भारतीय हिंदी कैलेंडर में कुल 16 तिथियां होती हैं, जिन्हें दो पक्षों में विभाजित किया गया है. प्रथम 15 तिथियां शुक्ल पक्ष में और दूसरी 15 तिथियां कृष्ण में सम्मिलित हैं. अर्थात एक माह में 30 तिथियां आती हैं. अमावस्या और पूर्णिमा को छोड़कर बाकी सभी तिथियां महीने में दो बार आती हैं.

आज और कल की तिथि – Today Tithi in Hindi

तारीखदिनतिथिपक्ष
1 जुलाई 2024सोमवारदशमी तिथिकृष्ण पक्ष
2 जुलाई 2024मंगलवारएकादशी तिथिकृष्ण पक्ष
3 जुलाई 2024बुधवारद्वादशी तिथिकृष्ण पक्ष
4 जुलाई 2024गुरुवारत्रयोदशी/चतुर्दशी तिथिकृष्ण पक्ष
5 जुलाई 2024शुक्रवारअमावस्या तिथिकृष्ण पक्ष
6 जुलाई 2024शनिवारप्रतिपदा तिथिशुक्ल पक्ष
7 जुलाई 2024रविवारद्वितीया तिथिशुक्ल पक्ष
8 जुलाई 2024सोमवारतृतीया तिथिशुक्ल पक्ष
9 जुलाई 2024मंगलवारतृतीया तिथिशुक्ल पक्ष
10 जुलाई 2024बुधवारचतुर्थी तिथिशुक्ल पक्ष
11 जुलाई 2024गुरुवारपंचमी तिथिशुक्ल पक्ष
12 जुलाई 2024शुक्रवारषष्ठी तिथिशुक्ल पक्ष
13 जुलाई 2024शनिवारसप्तमी तिथिशुक्ल पक्ष
14 जुलाई 2024रविवारअष्टमी तिथिशुक्ल पक्ष
15 जुलाई 2024सोमवारनवमी तिथिशुक्ल पक्ष
16 जुलाई 2024मंगलवारदशमी तिथिशुक्ल पक्ष
17 जुलाई 2024बुधवारएकादशी तिथिशुक्ल पक्ष
18 जुलाई 2024गुरुवारद्वादशी तिथिशुक्ल पक्ष
19 जुलाई 2024शुक्रवारत्रयोदशी तिथिशुक्ल पक्ष
20 जुलाई 2024शनिवारचतुर्दशी तिथिशुक्ल पक्ष
21 जुलाई 2024रविवारपूर्णिमा तिथिशुक्ल पक्ष
22 जुलाई 2024सोमवारप्रतिपदा तिथिकृष्ण पक्ष
23 जुलाई 2024मंगलवारद्वितीया तिथिकृष्ण पक्ष
24 जुलाई 2024बुधवारतृतीया/चतुर्थी तिथिकृष्ण पक्ष
25 जुलाई 2024गुरुवारपंचमी तिथिकृष्ण पक्ष
26 जुलाई 2024शुक्रवारषष्ठी तिथिकृष्ण पक्ष
27 जुलाई 2024शनिवारसप्तमी तिथिकृष्ण पक्ष
28 जुलाई 2024रविवारअष्टमी तिथिकृष्ण पक्ष
29 जुलाई 2024सोमवारनवमी तिथिकृष्ण पक्ष
30 जुलाई 2024मंगलवारनवमी तिथिकृष्ण पक्ष
31 जुलाई 2024बुधवारएकादशी तिथिकृष्ण पक्ष

तिथियों के नाम

हिन्दू कैलेंडर में कुल 16 तिथियां होती हैं. वैदिक ज्योतिष के अनुसार एक माह में 30 तिथियां होती हैं. जिसमें अमावस्या और पूर्णिमा महीने में एक बार और अन्य तिथियां दो बार आती हैं. महीने में दो बार पड़ने वाली सभी तिथियों को दो पक्षों में बांटा गया है. पहली 15 तिथियां शुक्ल पक्ष में और अगली 15 तिथियां कृष्ण पक्ष में आती हैं.

शुल्क पक्ष तिथियांकृष्ण पक्ष तिथियां
पूर्णिमाअमावस्या
प्रतिपदाप्रतिपदा
द्वितीयाद्वितीया
तृतीयातृतीया
चतुर्थीचतुर्थी
पंचमीपंचमी
षष्ठीषष्ठी
सप्तमीसप्तमी
अष्टमीअष्टमी
नवमीनवमी
दशमीदशमी
एकादशीएकादशी
द्वादशीद्वादशी
त्रयोदशीत्रयोदशी
चतुर्दशीचतुर्दशी

आज का पंचांग

देसी कैलेंडर के हिसाब से आज का पंचांग और नक्षत्र की जानकारी नीचे तालिका में दी गई है. हिन्दू धर्म में कोई भी शुभ कार्य या शुभ मुहूर्त इन पांच पंचांग:- तिथि, वार, नक्षत्र, योग और करण को देखकर ही किया जाता है. हिंदी पंचांग के अनुसार कुल 27 नक्षत्र, 11 करण और 27 योग होते है.

Today Panchang in Hindi

तारीखदिननक्षत्रतिथिपक्ष
1 जुलाई 2024सोमवारअश्विनी/भरणीदशमी तिथिकृष्ण पक्ष
2 जुलाई 2024मंगलवारअश्विनी/भरणीएकादशी तिथिकृष्ण पक्ष
3 जुलाई 2024बुधवाररोहिणीद्वादशी तिथिकृष्ण पक्ष
4 जुलाई 2024गुरुवारम्रृगशीर्षात्रयोदशी/चतुर्दशी तिथिकृष्ण पक्ष
5 जुलाई 2024शुक्रवारआद्राअमावस्या तिथिकृष्ण पक्ष
6 जुलाई 2024शनिवारपुनर्वसुप्रतिपदा तिथिशुक्ल पक्ष
7 जुलाई 2024रविवारपुष्यद्वितीया तिथिशुक्ल पक्ष
8 जुलाई 2024सोमवारपुष्यतृतीया तिथिशुक्ल पक्ष
9 जुलाई 2024मंगलवारआश्लेषातृतीया तिथिशुक्ल पक्ष
10 जुलाई 2024बुधवारमघाचतुर्थी तिथिशुक्ल पक्ष
11 जुलाई 2024गुरुवारपू फाल्गुनीपंचमी तिथिशुक्ल पक्ष
12 जुलाई 2024शुक्रवारउ फाल्गुनीषष्ठी तिथिशुक्ल पक्ष
13 जुलाई 2024शनिवारहस्तसप्तमी तिथिशुक्ल पक्ष
14 जुलाई 2024रविवारचित्राअष्टमी तिथिशुक्ल पक्ष
15 जुलाई 2024सोमवारस्वातिनवमी तिथिशुक्ल पक्ष
16 जुलाई 2024मंगलवारविशाखादशमी तिथिशुक्ल पक्ष
17 जुलाई 2024बुधवारअनुराधाएकादशी तिथिशुक्ल पक्ष
18 जुलाई 2024गुरुवारज्येष्ठाद्वादशी तिथिशुक्ल पक्ष
19 जुलाई 2024शुक्रवारमूलत्रयोदशी तिथिशुक्ल पक्ष
20 जुलाई 2024शनिवारपूर्वाषाढ़ाचतुर्दशी तिथिशुक्ल पक्ष
21 जुलाई 2024रविवारउत्तराषाढ़ापूर्णिमा तिथिशुक्ल पक्ष
22 जुलाई 2024सोमवारश्रवणप्रतिपदा तिथिकृष्ण पक्ष
23 जुलाई 2024मंगलवारधनिष्ठाद्वितीया तिथिकृष्ण पक्ष
24 जुलाई 2024बुधवारशतभिषातृतीया/चतुर्थी तिथिकृष्ण पक्ष
25 जुलाई 2024गुरुवारपूर्वभाद्रपदापंचमी तिथिकृष्ण पक्ष
26 जुलाई 2024शुक्रवारउत्तरभाद्रपदाषष्ठी तिथिकृष्ण पक्ष
27 जुलाई 2024शनिवाररेवतीसप्तमी तिथिकृष्ण पक्ष
28 जुलाई 2024रविवारअश्विनीअष्टमी तिथिकृष्ण पक्ष
29 जुलाई 2024सोमवारभरणीनवमी तिथिकृष्ण पक्ष
30 जुलाई 2024मंगलवारकृत्तिकानवमी तिथिकृष्ण पक्ष
31 जुलाई 2024बुधवाररोहिणीएकादशी तिथिकृष्ण पक्ष

योग के नाम

ज्योतिष शास्त्र में मौजूद कुल 27 योगों के नाम इस प्रकार से है:-

कुल संख्याज्योतिष योग के नाम
1विष्कुम्भ
2प्रीति
3आयुष्मान
4सौभाग्य
5शोभन
6अतिगण्ड
7सुकर्मा
8धृति
9शूल
10गण्ड
11वृद्धि
12ध्रुव
13व्याघात
14हर्षण
15वज्र
16सिद्धि
17व्यतीपात
18वरीयान्
19परिघ
20शिव
21सिद्ध
22साध्य
23शुभ
24शुक्ल
25ब्रह्म
26इन्द्र
27वैधृति

करण के नाम

शास्त्रों के अनुसार कुल 11 कारणों के नाम इस प्रकार हैं:-

कुल संख्याज्योतिष करण के नाम
1बव
2बालव
3कौलव
4तैतिल
5गर
6वणिज
7विष्टि
8शकुनि
9चतुष्पाद
10नाग
11किस्तुघ्न

नक्षत्र के नाम

भारतीय हिंदी कैलेंडर में ज्योतिष शास्त्र के हिसाब मौजूद कुल 27 नक्षत्रों के नाम इस प्रकार से है:-

कुल संख्याज्योतिष नक्षत्र के नामस्वामी
1अश्विनीकेतु
2भरणीशुक्र
3कृत्तिकारवि
4रोहिणीचन्द्र
5मॄगशिरामंगल
6आद्राराहु
7पुनर्वसुबृहस्पति
8पुष्यशनि
9अश्लेशाबुध
10मघाकेतु
11पूर्वाफाल्गुनीशुक्र
12उत्तराफाल्गुनीरवि
13हस्तचन्द्र
14चित्रामंगल
15स्वातीराहु
16विशाखाबृहस्पति
17अनुराधाशनि
18ज्येष्ठाबुध
19मूलकेतु
20पूर्वाषाढ़ाशुक्र
21उत्तराषाढ़ारवि
22श्रवणचन्द्र
23धनिष्ठामंगल
24शतभिषाराहु
25पूर्वाभाद्रपदबृहस्पति
26उत्तराभाद्रपदशनि
27रेवतीबुध

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न:-

  1. कल कौन सी तिथि है?

    आने वाले कल की तिथि की सूचि इस पेज में ऊपर दी हुई है.

  2. आज का पंचांग क्या है?

    Aaj का पंचांग ऊपर टेबल में देख सकते है.

  3. आज कौन सी तिथि है?

    आज की तिथि तारीख के बिलकुल सामने दी गई है.

  4. कल का पंचांग क्या है?

    Kal का पंचांग ऊपर दिया गया है.

Conclusion:- सनातन धर्म में शुभ और अशुभ समय व तिथियों को बहुत महत्व दिया गया है. इसलिए हिंदू धर्म के अनुयायी आज की तिथि यानी Today Tithi की जानकारी रखना उचित मानते है. इस धर्म के मानने वाले लोग किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले शुभ मुहूर्त और शुभ समय की जानकारी देखना पसंद करते है. भारतीय ज्योतिष शास्त्र में पंचांग अर्थात पांच भागों से बना पंचांग- तिथि, वार, नक्षत्र, योग और करण, इन्हें पंचांग कहते है.

error: Content is protected !!